सावित्रीबाई फुले जयन्ती : Savitribai Phule Birthday

 

सावित्रीबाई फुले  


शिक्षा की देवी ममता की माई

है हम सबकी सावित्रीबाई। 

ज्ञान की ज्योति बिखरा कर

ठुकराये को गले लगा कर

प्रेम का करके विस्तार

जीवन का दिया उपहार। 

अंधविश्वासों को करके परे

रस्ते दिखाये खरे -खरे। 

जनवरी तीन है दिन पावन

माँ ने लिया था अवतरण। 

असली देवी है माँ ज्ञान की

बातें थीं सब कल्याण की। 

रोती ममता को आंचल दिया

नयी दृष्टि का परचम दिया। 

 मां ने जीवन उत्सर्ग किया

मन उपवन को स्वर्ग किया

माँ को करते हैं बारंबार नमन

इनके दिखाये रस्ते पर रख के कदम। 


© डॉ. संजू सदानीरा 

Leave a Comment